International Olympic Day 2022 [Hindi] | क्यों मनाया जाता है ओलंपिक दिवस तथा क्या है इसका महत्व?

International Olympic Day 2022 [Hindi] Theme, Quotes, History, Aim, Run
Spread the love

ओलंपिक दिवस (International Olympic Day in Hindi) 23 जून 1894 को बैरन पियरे डी कौबर्टिन द्वारा अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति की स्थापना के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। ओलंपिक दिवस 2022 की थीम के बारे में भी जानें।

ओलंपिक दिवस क्या है तथा इसे कब मनाया जाता है?

ओलंपिक दिवस खेल, स्वास्थ्य और एकजुटता का एक बड़ा जश्न है। यह हर साल 23 जून को मनाया जाता है। साथ ही यह पूरी दुनिया को क्रियाशील बनाने और उद्देश्य के साथ आगे बढ़ने के लिए सभी को आमंत्रित करता है। पूरी दुनिया के सभी प्रतिभागी इस दिन को याद करते हैं, जिस दिन पेरिस के सोरबॉन में अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति की स्थापना की गई थी। 23 जून 1894 को पियरे डी कौबर्टिन ने प्राचीन ओलंपिक खेलों को फिर से जीवंत करने के लिए रैली की थी।

  • ओलंपिक, खेल के जरिए दुनिया को एक बेहतर जगह बनाने का प्रतिनिधित्व करता है।
  • साल 1947 से पहले भी ओलंपिक दिवस का उत्सव मनाया जाता था।

चेक IOC सदस्य डॉक्टर ग्रस ने स्वीडन के स्टॉकहोम में अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति के 41वें सत्र में विश्व ओलंपिक दिवस मनाने का विचार सबके सामने प्रस्तुत किया, जिसके अंतर्गत ओलंपिक अभियान से जुड़ी हर चीज का जश्न मनाने के लिए एक दिन रखे जाने का न्योता पेश किया गया।

अंतराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के बारे मे महत्वपूर्ण जानकारी

जानकारीविवरण
स्थापना23 जून 1894
प्रकारस्पोर्ट्स फेड्रेशन
मुख्यालयलौसन, स्वीज़लेंड
मैम्बरशिप105 एक्टिव मेम्बर, 32 ओनोरी  मेम्बर
औपचारिक भाषाइंग्लिश और फ्रेंच
अध्यक्षथॉमस बेच
उपाध्यक्षनवल ईएल मोतवाकेलक्रैग रीडीजॉन कोटेस
ऑफिसियल वैबसाइटOlympic.org

ओलंपिक दिवस 2022 की थीम क्या है? (Theme for International Olympic Day)

2022 में ओलंपिक दिवस की थीम एक साथ, एक शांतिपूर्ण विश्व के लिए है। साथ ही इसका सोशल मीडिया हैशटैग #शांति के लिए बढ़ाएंगे कदम और #OlympicDay है।

  • ओलंपिक दिवस लोगों को शांति से एक साथ लाने के लिए खेल की ताकत का जश्न मनाता है।
  • ओलंपिक अभियान ने शांति और खेल को एक साथ लेकर चलने में एक लंबा सफर तय किया है ,और हर ओलंपिक खेल के दौरान ओलंपिक ट्रूस इसमें अपनी अहम भूमिका निभा रहा है।
  • बीते कुछ समय से अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति, IOC रिफ्यूजी एथलीट स्कॉलरशिप और IOC रिफ्यूजी ओलंपिक टीम के जरिए रिफ्यूजी एथलीटों का भी समर्थन कर रही है।

ओलंपिक दिवस पर लोग क्या करते हैं?

राष्ट्रीय ओलंपिक समितियां ओलंपिक दिवस के कार्यक्रमों को लेकर काफी क्रिएटिव हो रही हैं। ताकि इससे सभी लोग जुड़ सके। उम्र, जेंडर सामाजिक पृष्ठभूमि या खेलने की क्षमता की परवाह किए बिना वो भी इसका हिस्सा बन सकें। इस कार्यक्रम को कुछ देशों ने स्कूली पाठ्यक्रम में भी शामिल किया है।

  • हर कोई ओलंपिक दिवस में शामिल हो सकता है और जब बहुत सारे लोग ओलंपिक दिवस पर कई तरह का काम कर रहे हैं तो क्यों न इसे जश्न का हिस्सा बनाया जाए।
  • इन दिनों कई लोग दुनिया भर में ओलंपिक दिवस मनाने के लिए
  • ओलंपिक दिवस रन का आयोजन कराते हैं। इनमें ओलंपिक की राजधानी लुसाने भी शामिल है, जहां से आईओसी जुड़ी हुई है।

इसका आयोजन पहली बार 1987 में शुरू किया गया। यह रन सभी राष्ट्रीय ओलंपिक समितियों (एनओसी) को ओलंपिक दिवस मनाने और सामूहिक खेल को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से आयोजित किया गया था।

ओलंपिक डे रन (International Olympic Day Run in Hindi)

पिछले कई वर्षो से ओलंपिक डे रन का आयोजन पूरे विश्व में किया जा रहा है.  पहली ओलंपिक डे रन 1987 में की गयी थी,  राष्ट्रीय ओलंपिक समिति द्वारा प्रतिवर्ष इस दौड़ के आयोजन का मुख्य उद्देश्य ओलंपिक डे को मनाना और  देश में ओलंपिक डे प्रैक्टिस को प्रोत्साहन देना था. सन 1987 में सर्व प्रथम कुल 45 राष्ट्रीय ओलंपिक समितियों ने इसमे अपनी हिस्सेदारी दी थी, जो संख्या आज बढ़कर 100 से ज्यादा पहुच चुकी है. इस ओलंपिक डे रन में हर उम्र के बच्चे, पुरुषो व महिलाओ को शामिल किया जाता है

अंतराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के सदस्य (International olympic committee members)

पदनामदेश
अध्यक्षडॉ. थॉमस बचजर्मनी
उपाध्यक्षएमएस. नवल ईएल मोतवाकेलमोरक्को
उपाध्यक्षसर क्रैग रीडीयूनाइटेड किंगडम
उपाध्यक्षमिस्टर जॉन कोटसआस्ट्रेलिया
उपाध्यक्षमिस्टर जाईंगचाइना
डाइरेक्टर जनरलमिस्टर क्रिस्टोफे दे केप्पर 
मेम्बरमिस्टर वू चिंग-कुओचाइनिज ताइपेई
मेम्बररेने फसेलस्विट्ज़रलैंड
मेम्बरमिस्टर पैट्रिक जोसफ हिककेआयरलैंड
मेम्बरमिस क्लाउडिया बोकेलजर्मनी
मेम्बरमिस्टर जुआन एटोनिओ समरंचस्पेन
मेम्बरसेरगे बूबकाउकराइन
मेम्बरमिस्टर विल्ली कल्ट्श्च्मित्त लुजनगौटमाला
मेम्बरमिस अनीता देफ़्रंट्ज़यूनाइटेड स्टेट
मेम्बरप्रोफ. डॉ. उगुर एर्डेनरतुर्की
मेम्बरमिसेस गुनिल्ला लिन्द्बर्गस्वीडन

International Olympic Day 2022: इतिहास (History in Hindi)

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के एक सदस्य डॉक्टर ग्रस (Doctor Gruss) ने महसूस किया कि अंतरराष्ट्रीय खेलों में भाग लेने के लिए लोगों में जागरूकता पैदा करने के लिए एक दिन सेलिब्रेट किया जाना चाहिए, इसलिए उन्होंने सन् 1947 में स्टॉकहोम में आयोजित अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के 41 वें सत्र में ओलंपिक दिवस के सेलिब्रेशन (Celebration of Olympic Day) के बारे में एक प्रस्ताव रखा। जिसके चलते सन् 1948 में स्विट्जरलैंड के सेंट मोरित्ज़ (St. Moritz) में आयोजित 42 वें अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) सत्र में डॉक्टर ग्रस (Doctor Gruss) द्वारा दिए गए विचार को एग्ज़िक्यूट करने का निर्णय लिया गया था।

Also Read | Why National Sports Day is Celebrated- Theme of National Sports Day

अंततः समिति ने 23 जून को अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक दिवस या विश्व ओलंपिक दिवस (International Olympic Day or World Olympic Day) के रूप में मनाने का फैसला किया क्योंकि 23 जून को 1894 में पेरिस के सोरबोन में अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति की स्थापना की गई थी। पहला अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक दिवस 23 जून, 1948 को सिगफ्रिड एडस्ट्रॉम (Sigfrid Edstrom) की अध्यक्षता में मनाया गया था।

Olympic Game objectives – ओलंपिक खेलों के उद्देश्य

  • खेलों में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर और हर आयु वर्ग और लिंग के लोगों की भागीदारी को बढ़ावा देना है.
  • आज के समय में ओलंपिक डे केवल एक उत्सव न रहकर एक अंतर्राष्ट्रीय प्रयास बन चुका है, जिसके व्दारा फिटनस और अच्छा इंसान बनने को बढ़ावा दिया जा रहा है.
  • खिलाड़ियों में सही खेल,एक दुसरे के लिए रिस्पेक्ट और स्पोर्ट्समेनशिप की भावना को बढ़ावा दिया जाता है.
  • प्रत्येक देश में खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करना और सपोर्ट करना है.
  • Olympic खेल के रेगुलर सेलिब्रेशन को संभावित करना है.
  • ओलंपिक आंदोलन को प्रभावित करती है तथा किसी भी प्रकार के भेदभाव का विरोध करती है.
  • खेलो और खेलो के संदर्भ मे होने वाली प्रतियोगिताओं का विकास और व्यवस्थाओं कि देख रेख करना है.

International Olympic Day 2022: महत्वता (Significance)

अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक दिवस युवा पीढ़ी को खेलों में सक्रिय सदस्य बनने और ओलंपिक खेलों में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता है। लोग ज्यादातर क्रिकेट जैसे खेलों के प्रति अधिक आकर्षित और जागरूक हैं, अतः विश्व ओलंपिक दिवस ओलंपिक खेलों की ओर उनका ध्यान खींचने के लिए मनाया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक दिवस भी लोगों को खेलों को करियर विकल्प के रूप में अपनाने के लिए प्रेरित करता है। 

■ Also Read | World Sports Day: How to Play Sports of Human Life?

उत्कृष्टता, सम्मान और मित्रता (Excellence, Respect and Friendship) ये तीन सिद्धांत हैं जो ओलंपिक सिखाते हैं और इन मूल्यों को एक व्यक्ति के दैनिक जीवन में शामिल किया जाना चाहिए। समितियाँ, सरकारी संगठन और ग़ैर-सरकारी संगठन अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक दिवस पर विभिन्न कार्यक्रमों, सेमिनारों, प्रतियोगिताओं, प्रदर्शनियों का आयोजन करते हैं। ओलंपिक डे दौड़ (Olympic Day Run) सबसे चर्चित आयोजन है जिसमें बड़ी संख्या में लोग भाग लेने के लिए एक साथ आते हैं। विश्व ओलंपिक दिवस पर बच्चों में जागरूकता बढ़ाने के लिए स्कूल और कॉलेज कार्यक्रम आयोजित करते हैं।

Credit | Oneindia Hindi | वनइंडिया हिंदी

इंटरनेशनल ओलंपिक खेलों में उपलब्ध सम्मान (International Olympic Medals in Hindi)

ओलंपिक खेलों में मिलने वाले मेडल्स के अलावा भी कई ऐसे अवार्ड है, जिन्हे अंतराष्ट्रीय ओलंपिक समिति द्वारा खिलाड़ियों को दिया जाता है. यह अंतराष्ट्रीय खेल समिति द्वारा दिये जाने वाले अवार्ड इस प्रकार है.

  • आई ओ सी प्रेसिडेंट ट्रॉफी ओलंपिक खेलों में मिलने वाला सबसे बढ़ा अवार्ड है, यह उस खिलाड़ी को दिया जाता ,है जिसने अपने खेल में अच्छा प्रदर्शन किया हो, साथ ही में उस खिलाड़ी का पूरा कैरियर भी उत्कर्ष प्रदर्शन वाला रहा हो और उसने अपने खेल में एक स्थायी प्रभाव दर्ज किया हो.
  • ओलंपिक खेलों मे दिया जाने वाला दूसरा अवार्ड pierre de coubertin medal है, यह उस खिलाड़ी को दिया जाता है जिसने पूरे ओलंपिक खेल में एक स्पेशल खेल भावना का प्रदर्शन किया हो.
  • ओलंपिक खेलों में ओलंपिक कप उस संस्था या संगठन को दिया जाता है, जिसने ओलंपिक खेलों के विकास में प्रयास किए हो.
  • ओलंपिक ऑर्डर अवार्ड उस व्यक्ति को दिया जाता है, जिसने ओलंपिक खेलों में अपना विशेष योगदान दिया हो. 

ओलंपिक के बारे में सुविचार (International Olympic Day Quotes in Hindi)

1. मैं कड़ी मेहनत करता हूं और मैं अच्छा करता हूं

और मैं खुद का आनंद लेने जा रहा हूं

मैं तुम्हें मुझे प्रतिबंधित नहीं करने दूंगा

उसैन बोल्ट, स्वर्ण पदक ट्रैक और फील्ड एथलीट

2. कभी छोड़ना नहीं, कभी हार मत मानो

-गैबी डगलस, स्वर्ण पदक जिमनास्ट

3. सोना कभी मत खरीदो,

बस कमाओ – मैरी कोम

4. जो जोखिम लेने के लिए पर्याप्त साहसी नहीं है वह जीवन में कुछ

भी हासिल नहीं करेगा, — मुहम्मद अली, स्वर्ण पदक मुक्केबाज

5. बिना डर

के हम बहादुर नहीं

हो सकते, – योगेश्वर दत्त

FAQ about International Olympic Day in Hindi

Q : ओलंपिक 2021 की थीम क्या है ?

Ans : ओलंपिक की थीम को कोरोना को ध्यान में रखते हुए रखी गई है, स्वस्थ रहें मजबूत रहें।

Q : ओलंपिक रिंग में कितने छल्ले होते हैं ?

Ans : इसमें पांच छल्ले होते हैं नीले, पीले, काले, हरे और लाल।

Q : अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस कब मनाया जाता है ?

Ans : 23 जून को अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस मनाया जाता है।

Q : 2021 में किस भारतीय खिलाड़ी ने सिल्वर पदक जीता ?

Ans : मीराबाई चानू जिन्होंने वेट लिफ्टिंग में जीता सिल्वर।

Q : पहला ओलंपिक कब हुआ ?

Ans : पहला ओलंपिक 6 अप्रैल 1896 में हुआ।

Q : अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति स्थापना दिवस कब होता है ?

Ans : 23 जून 1894 को ओलंपिक समिति स्थापना दिवस होता है।

Q : अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के वर्तमान अध्यक्ष कौन है ?

Ans : थोमस बाच

Q : 2021 में ओलंपिक खेल कहां हो रहे हैं ?

Ans : टोक्यो

Q : भारत ने प्रथम ओलंपिक स्वर्ण कब जीता ?

Ans : 1928 में एम्स्टर्डम में जीता।

Q : ओलंपिक चिन्ह क्या है ?

Ans : ओलंपिक में बना चिन्ह 5 महाद्वीपों को दर्शाते हैं।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.