राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस 2022 निबंध, उद्देश्य, विषय | National Safety Day 2022 Objectives, Theme in Hindi

National Safety Day 2022 [Hindi] Theme, Quotes, Speech, History
Spread the love

National Safety and Security Day 2022: राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस (नेशनल सेफ्टी डे) भारत में हर साल 4 मार्च के दिन मनाया जाता है. इस दिन को मनाए जाने का मुख्य उद्देश्य हमारे जीवन के विभिन्न समयों में जागरूकता न होने या ध्यान न देने के कारण होने वाली दुर्घटनाओं को रोकना है. पहले से  मनाए जाने वाले नेशनल सेफ्टी डे को अब नेशनल सेफ्टी सप्ताह के रूप में मनाया जाने लगा है. इस सप्ताह के दौरान विभिन्न जागरूकता कार्यक्रमों के माध्यम से औद्योगिक दुर्घटनाओं से बचाव के तरीको से लोगों को अवगत कराया जाता है. इस पूरे सप्ताह में की जाने वाली प्रत्येक गतिविधी का एक मात्र उद्देश्य लोगों को उनकी सुरक्षा के लिए जागरूक कर उन्हे सुरक्षा के विभिन्न तरीको से अवगत करना होता है.

National Safety and Security Day इतिहास (History)

National Safety Day 2022: इस दिन को अस्तित्व में लाने की पहल नेशनल सेफ्टी काउंसिल द्वारा ही की गई थी. 4 मार्च के ही दिन भारत में नेशनल सेफ्टी काउंसिल की स्थापना हुई थी, इसलिए इस दिन को ही नेशनल सेफ्टी डे के रूप में मनाया जाता है. नेशनल सेफ्टी काउंसिल एक स्वशासी निकाय है, जो कि सार्वजनिक सेवा के लिए गैर सरकारी और गैर लाभकारी संगठन के रूप में कार्य करता है. इस संगठन की स्थापना साल 1966 में मुंबई सोसायटी अधिनियम के तहत हुई थी, जिसमें आठ हजार सदस्य शामिल थे. इसके बाद साल 1972 में इस संगठन द्वारा नेशनल सेफ्टी दिवस मनाने का निर्णय लिया गया. और इसके बाद बहुत ही जल्द इसे नेशनल सेफ्टी डे की जगह नेशनल सेफ्टी सप्ताह के रूप में मनाया जाने लगा.

National Safety Day 2022 की थीम

हर साल, भारतीय राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद (NSC) राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस की थीम प्रकाशित करती है. भारत में नेशनल सेफ्टी डे एक खास थीम के साथ मनाया जाता है, इस साल राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस 2022 की थीम है “सुरक्षा संस्कृति के विकास हेतु युवाओं को प्रोत्साहित करें” (NURTURE YOUNG MINDS DEVELOP SAFETY CULTURE). लोगों को राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस की थीम के बारे में पता होना चाहिए.

राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस (National Safety Day) की गतिविधियां और कार्यक्रम

यह सप्ताह विभिन्न सरकारी, गैर सरकारी संस्थानों के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग और विभिन्न ओद्योगिक संगठनो द्वारा मिलकर मनाया जाता है. ये संस्थाए विभिन्न कार्यक्रमों और विभिन्न प्रमोशनल मटेरियल्स के द्वारा लोगों में राष्ट्रीय सुरक्षा कि भावना को जागरूक करती है. इन कार्यक्रमों को विभिन्न इलेक्ट्रोनिक मीडिया पत्रिकाओं, समाचार पत्रों और अन्य ओद्योगिक पत्रिकाओं के माध्यम से लोगों तक पहुँचाया जाता है.

■ Also Read: Russia Ukraine War: यूक्रेन की राजधानी में घुसी रूसी सेना

राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस (National Safety Day) सप्ताह मनाने का लक्ष्य

  • विभिन्न स्वास्थ्य और पर्यावरण आंदोलन सहित सुरक्षा के बारे में लोगों को जागरुक करने के लिये पूरे देश भर में राष्ट्रीय स्तर पर राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस/सप्ताह मनाया जाता है।
  • अलग-अलग औद्योगिक क्षेत्रों में मुख्य सुरक्षा भूमिका निभाने के लिये बड़े स्तर पर लोगों की भागीदारी के लक्ष्य को पाने के लिये इसे मनाया जाता है।
  • अपने कर्मचारियों में सुरक्षा, स्वास्थ्य और पर्यावरण क्रियाकलापों को बढ़ावा देने के द्वारा कंपनी के मालिकों के द्वारा सहभागी दृष्टीकोण के उपयोग को ये बड़े स्तर पर अभियान मनाने के द्वारा प्रचारित करता है।
  • इस अभियान के द्वारा जरुरत पर आधारित क्रियाकलाप, कानूनी माँग के साथ स्व-अनुपालन और पेशेवर एसएचई (सुरक्षा, स्वास्थ्य और पर्यावरण) गतिविधियों को कार्यस्थल पर कर्मचारियों के बीच बढ़ावा दिया जाता है।
  • दूसरे कर्मचारियों को उनके कानूनी जिम्मेदारी सहित नियोक्ता और कर्मचारी को याद दिलाने के द्वारा एक बड़े स्तर पर कार्य-स्थल की सुरक्षा को प्रचारित किया जाता है।
  • कार्यस्थल पर लोगों के बीच एसएचई क्रियाकलापों को विकसित और मजबूत करने का लक्ष्य प्राप्त करना।
  • एक सुरक्षात्मक दृष्टीकोण आयोजन के द्वारा दिमाग के वैज्ञानिक स्थिति और सुरक्षात्मक संस्कृति के साथ समाज की सेवा करना।

राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस से जुड़े स्लोगन (National Safety day quote and slogans in hindi)

1. चलो निभाए जिम्मेदारी, करें सुरक्षा की तैयारी।
2. अपनी सुरक्षा हमारी पहली सफलता होती है, अगर हम सुरक्षित नहीं तो सफलता का ध्येय कभी नहीं प्राप्त कर सकते।
3. जीवन में आत्म सुरक्षा सबसे जरूरी है, बिना सुरक्षा सारी खुशियां और सफलता अधूरी है।
4. अपनों की सुरक्षा, अपनी सुरक्षा।
5. खुद की और दूसरों की सुरक्षा हमारी जिम्मेदारी है, एक दूसरे की सुरक्षा के प्रति जिम्मेदार बने।
6. स्वस्थ और सुरक्षित परिवेश से ही आनंदमय जीवन का मन्त्र  है। सुरक्षा में लापरवाही से हम जीवन से हाथ धो बैठेते हैं।
7. एक सुंदर भविष्य के निर्माण के लिए वर्तमान में अपनी सुरक्षा बहुत जरूरी है अगर आप का आज सुरक्षित है तो आपका भविष्य भी सुरक्षित होगा।
8. आपकी सुरक्षा आपके हाथ।
9. जल सुरक्षित, कल सुरक्षित।
10. आपका भविष्य आपके अपनों का भविष्य है इस के साथ खिलवाड़ मत करिए।

स्कूल में बच्चों की सेफ्टी का ध्यान कैसे रखें

  • अगर आपका बच्चा प्ले स्कूल या नर्सरी स्कूल में जाता है, तो उसकी सेफ्टी का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। ऐसे में सबसे पहले आप उसके बैग में उसका और अपना पूरा नाम, घर का पता और कम से कम दो मोबाइल नंबर लिखकर एक स्लिप जरूर डालें, क्योंकि अगर कभी बच्चा घुम जाता है, तो यह स्लिप किसी को उसे घर तक पहुंचाने में काम आ सकती है।
  • अगर आपका बच्चा किसी बस या वैन से स्कूल जाता है तो यह जरूर चेक करें कि ड्राइवर और कंडक्टर का पुलिस वेरिफिकेशन हुआ है या नहीं। साथ ही बस ड्राइवर और कंडक्टर दोनों का नंबर रखें ताकि आप उनसे संपर्क कर सकें। इस बात का ध्यान रखें कि अगर आपका बच्चा सबसे आखिर में बस या वैन से उतरता है तो उसके साथ एक स्कूल का अटेंडेंट जरूर हो।
  • छोटे बच्चों को 3-4 साल में ही गुड टच और बैड टच के बारे में जानकारी जरूर दें। उन्हें सिखाएं कि किसी बुरे बर्ताव या बैड टच करने पर चिल्लाकर रिएक्ट करना है।
  • स्कूल के बाथरूम और टॉयलेट की सुरक्षा की जांच करें। यह देखिए कि वहां कोई अटेंडेंट बैठता है या नहीं। आप इस बारे में बच्चे से भी बार-बार पूछते रहे कि वहां अंदर कोई आता-जाता तो नहीं है और टॉयलेट के बाहर कोई देखरेख करता है या नहीं। 
  • बच्चों की एक्टिविटीज पर ध्यान रखें। अगर उनके बर्ताव में आपको थोड़ा सा भी बदलाव नजर आए, तो इस पर गंभीरता से विचार करें। बच्चों को बचपन से ही ये आदत डाले कि वह कोई भी चीज अपने अंदर छुपा कर नहीं रखें, बल्कि घर में मम्मी या पापा में से किसी को अपनी सारी बातें जरूर बताएं।
  • सबसे जरूरी बात की आपको बच्चों की सभी बातों को धैर्य पूर्वक सुननी चाहिए। किसी गलत बात पर आपको पैनिक होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि अगर आप गुस्सा करेंगे या उसे डांट लाएंगे तो अगली बार से वह आपको अपनी बातें नहीं बताएंगे। 

Also Read: National Science Day: क्यों मनाया जाता है राष्ट्रीय विज्ञान दिवस ? क्या है इसका इतिहास और महत्व?

राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस पर भाषण – Speech on National Safety Day in Hindi

National Safety Day 2022: सम्मानीय अतिथि, सभी महामहिम और मेरे सभी छोटे-भाई-बहनों और यहां मौजूद साथियों को मेरा नमस्कार। सबसे पहले मै। आप सभी का इस कार्यक्रम में स्वागत करती हूं, आज मुझे बेहद खुशी हो रही है कि राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस पर मुझे आप सभी लोगों के सामने भाषण देने का अवसर प्राप्त हुआ है। जैसे कि हम सभी जानते हैं कि देश के लोगों को सुरक्षा के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से हर साल 4 मार्च को राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस (नेशनल सेफ्टी एंड सेक्योरिटी डे) मनाया जाता है।

Credit: Oneindia Hindi | वनइंडिया हिंदी

इस दिवस को एक सप्ताह तक मनाया जाता है, इस दौरान कई तरह के जागरूकता कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाता है, जिसमें न सिर्फ लोगों को देश की सुरक्षा के लिए जागृत किया जाता है, बल्कि उन्हें औद्योगिक क्षेत्र में सुरक्षा, नारी सुरक्षा, सड़क सुरक्षा, मिलावटी खाद्य पदार्थों से होने वाली बीमारियों से सुरक्षा के प्रति भी जागरुक किया जाता है।

वहीं इस दौरान लोगों को सुरक्षा के कई तरीकों से भी अवगत करवाया जाता है, ताकि वे समय पड़ने पर खुद का बचाव कर सकें। वहीं आज के इस मौके पर मै देश के सभी सुरक्षा विभाग और देश के वीर जवानों को देश की सुरक्षा करने के लिए शुक्रियादा अभिनंदन करती हूं / करता हूं। और उन वीर सपूतों के हौसले और जज्जे को सलाम करता हूं।


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.